About Us
About Me

Mr. Jatin achieved his financial freedom in year 2012, and ever since his wealth has been growing big in numbers. Jatin Arora’s career involves experience and knowledge of several trades. With over 18 years in the working now, Jatin has a deep understanding of what it takes to succeed in business.

Follow Me

“मुझसे नहीं होगा” नेटवर्क मार्केटिंग ऑब्जेक्शन हैंडलिंग

आज इस ब्लॉग के माध्यम से हम ये जान पाएंगे कि एक नया डिस्ट्रीब्यूटर किस तरीके से इस ऑब्जेक्शन को दूर कर सकता है?

एक सत्य कथन है – “जो हम सोचते है वो हम बनते है ”|

कई बार प्रेजेंटेशन के दौरान आपका प्रॉस्पेक्ट यह बोलता है कि ‘मुझसे नहीं होगा’ या ‘मै नहीं कर सकता’|

असलियत में वह नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस में आने से इंकार नहीं कर रहा है | बल्कि उसे यह लग रहा है कि वह नहीं कर पाएगा और वास्तव में वह खुद को कम आंक रहा है |

अतः चुनौती यह नहीं है कि आपका प्रॉस्पेक्ट इस बिज़नेस में आने से इंकार कर रहा है असल मायने में चुनौती यह है कि जब आप या आपका डिस्ट्रीब्यूटर इस आपत्ति का सही तरीके से जवाब नहीं दे पाता तो वह अपने पोटेंशियल प्रॉस्पेक्ट को शुरुआत में ही खो देता है|

उपयुक्त ऑब्जेक्शन का समाधान हेतु निम्न सुझावों को अपनाए :-

नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस जैसा कि हम जानते है नए दौर का व्यापार है जिसके बारे में आम जनता को बेहद कम जानकारी है या वे इस बिज़नेस के सही मायने नहीं समझ पाते जिसके चलते उनके मन में विभिन्न तरह के सवाल आते है जो कि स्वाभाविक रूप से सही है | आज इस व्याख्या के जरिये हम आपको यह बताएंगे कि यदि आपसे आपका प्रॉस्पेक्ट यह बोलता है कि “मुझसे नहीं होगा” या “मै नहीं कर सकता” तो इसका सरल जवाब किस तरह से दिया जाए ताकि वह इस बिज़नेस में शामिल हो पाए|

ऐसी स्थिति में ये बताने से ज़्यादा जरुरी यह है कि आपको उसकी मानसिकता को ठीक करने की आवश्यकता है जिसके चलते वह यह समझ रहा है की वह इस काम को नहीं कर पाएगा | और इसके साथ-साथ आपको उसको व्यापार की संभावनाओं के बारे में अवगत कराना चाहिए ताकि उसे नेटवर्क मार्केटिंग की असल महत्वता पता चल सके |

यह बिलकुल सच बात है कि हमारा दिमाग बिलकुल वही करता है जो हम उसे करने के लिए बताते है |

अगर आप इससे कहोगे कि मुझसे नहीं होगा तो आपको यही जवाब मिलेगा कि तुमसे सच में नहीं होगा क्योंकि आपका दिमाग आपको हज़ारो बहाने बता देगा कि तुम ये क्यों नहीं कर सकते लेकिन अगर आप बोलोगे कि हाँ, तो आपको ये निश्चित रूप से हज़ार तरीके बताएगा कि कैसे आप ये काम कर सकते हो |

ऐसे में वह व्यक्ति जो अब तक मना कर रहा है कि मुझसे नहीं होगा क्योंकि उसे अभी इस बात का एहसास नहीं है कि नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस ही उसकी ज़िन्दगी भर की प्रार्थनाओ का एकमात्र जवाब है |

अतः जैसे ही आप उसे नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस की सच्चाई से अवगत कराएंगे वैसे ही उसकी प्रतिक्रिया बदल जाएगी |

इसका एक सटीक तरीका है :-

” उस व्यक्ति को नेटवर्क मार्केटिंग ट्रेनिंग का हिस्सा बनाकर ” |

एक महत्त्वपूर्ण कहानी :-

एक बार की बात है मेरी टीम का एक सदस्य जो कि आज एक सफल व्यापारी है| वह भी बहुत काफी संकोच में था जब उसे यह बिज़नेस दिखाया गया था| तब मैंने उसे यह सलाह दी की वो नियमित रूप से ट्रेनिंग्स में आता रहे और कहा कि वह खुद को इस तरह से नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस को लेकर शिक्षित करे जिससे उसे इसकी सभी उपलब्धियों और सम्भावनाओ का संपूर्ण ज्ञान मिले | और मैंने उसे यह भी कहा कि वह तब तक इस बिज़नेस से न जुड़े जब तक उसे प्रोडक्ट्स पर भरोसा न हो जाए |

जब वह इस बिज़नेस का हिस्सा बना हालांकि वह शुरुआत में उतना कौशल नहीं था ,किन्तु वह लगातार हमारे ट्रेनिंग सिस्टम से जुड़ा रहा और धीरे – धीरे उसे यह विश्वास होने लगा कि वह भी यह बिज़नेस कर सकता है |

एक और उदाहरण के ज़रिये समझिये :-

जब कोई व्यक्ति कार चलाना सीखता है तो वह मानसिक और शारीरिक रूप से अपनी हर गतिविधियों पर गौर करता है लेकिन कुछ समय बाद जब वह पूर्ण रूप से कार चलाना सीख जाता है तो वह केवल शारीरिक रूप से तो वहां होता लेकिन मानसिक तौर पर उसका ध्यान कहीं और होता है |

निष्कर्ष :-

इसी प्रकार व्यापार में भी होता है क्योंकि यह मानव प्रवृति है कि अगर कोई भी नया काम शुरू करते है तो उसे लेकर मन में हमेशा हिचकिचाहट होती है कि इसमें हम सफल हो पाएंगे या नहीं |

जैसे ही आपको यह आभास हो जाता ही कि हमे ये काम किस तरह करना और नियमित क्या तरीके अपनाने है तो यह बेहद सरल और रोचक साबित हो जाता है |

ऐसा ही नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस का सच है तो आपको अपने प्रॉस्पेक्ट को मजबूर करने कि कोई ज़रूरत नहीं है बल्कि उसे इस बिज़नेस के ट्रेनिंग सिस्टम से जोड़ने की है ताकि उसे यह विश्वास हो जाए कि वह भी नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस कर सकता है |

Loading Facebook Comments ...